• micro-blog
  • WechatWechat QR code

गुआनडोंग प्रांतिय लोक्स सरकार का होम पृष्ठ  >  News trends  >  Guangdong highlights

हाल के फुटबॉल मैचों का सीधा प्रसारण

स्रोत: Nanfang Daily Online Edition     time: 2021-10-21 00:22:21

जीतने के लिए ऑनलाइन बैकारेट कैसे खेलें हाल के फुटबॉल मैचों का सीधा प्रसारण betway कैसे खेले,fun88.ru आईपीटीवी,lovebet 60 फ्री बेट्स,lovebet जैकपॉट 5 नियम चुनें,lovebet ट्रैकिड=एसपी-006,365 फुटबॉल सट्टेबाजी,बैकारेट बेटिंग खाता खोलना,बैकारेट भविष्यवक्ता ऑनलाइन,सीबीएसई कक्षा 10 2021 के लिए सर्वश्रेष्ठ पांच नियम,कैसर स्पोर्ट्सबुक xfl,आस-पास कैसीनो,शतरंज या शतरंज24,इंदौर में क्रिकेट क्लब,डी बैकारेट,यूरोपीय कप फुटबॉल लॉटरी भविष्यवाणियां,फुटबॉल कोच निलंबित,जुआ खेल कैसीनो,खुश किसान पियानो संगत,भारत नेटबेट,जैकपॉट डाइनिंग सरप्राइज,नवीनतम शतरंज और कार्ड,लाइव परफेक्ट ब्लैकजैक,लॉटरी एनबीए,m.fun88.com उपयोगकर्ता,ऑनलाइन कैसीनो एरोफ्नेन,ऑनलाइन गेम यति,ऑनलाइन स्लॉट रियल मनी कैलिफ़ोर्निया,पोकर 6 अधिकतम रणनीति,पोकर जिंगा मॉड एपीके,रूले सॉफ्टवेयर नि: शुल्क परीक्षण,रम्मी भारतीय,सबा सकारात्मक नेता,स्लॉट एलडब्ल्यूसी,खेल- खेल की दुकान करुरी में,तीन पत्ती ऑक्ट्रो APK,लवबेट टीम,आभासी क्रिकेट परिणाम bet365,विलियम हिल इंटरनेशनल एंटरटेनमेंट,sports आईपीएल,कुरुक्षेत्र,खेल लॉटरी epaper,जैकेट जैकेट,पोकर तीन पत्ती गेम,बेटवा ने साइकिल मोड़ वाले हैंडल,रूले कैसीनो,स्टेटस यादव, ,यस बैंक ने उल्लेखनीय प्रगति दिखाई, स्थिर होने में दो और साल लगेंगे : रजनीश कुमार

  


  

यस बैंक ने उल्लेखनीय प्रगति दिखाई, स्थिर होने में दो और साल लगेंगे : रजनीश कुमार

  यस बैंक ने उल्लेखनीय प्रगति दिखाई, स्थिर होने में दो और साल लगेंगे : रजनीश कुमार

नयी दिल्ली, 20 अक्टूबर (भाषा) भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) के पूर्व चेयरमैन रजनीश कुमार ने कहा कि संकटग्रस्त यस बैंक ने पिछले साल एसबीआई के नेतृत्व में निवेशकों के समूह द्वारा उसके प्रबंधन को संभालने के बाद उल्लेखनीय प्रगति दिखाई है और इसे स्थिर होने में दो साल और लग सकते हैं।

उन्होंने पीटीआई-भाषा से कहा, ‘‘जिस स्थिति में यस बैंक था, आपको उसे स्थिर करने के लिए कम से कम तीन साल का समय देना होगा।’’

'द कस्टोडियन ऑफ ट्रस्ट' नामक अपनी पुस्तक में, कुमार ने कहा कि एसबीआई यस बैंक के लिए अंतिम सहारा बनने के लिए अनिच्छुक था, लेकिन परिस्थितियों ने इसे देश के चौथे सबसे बड़े निजी क्षेत्र के बैंक को बचाने के लिए मजबूर किया।

उन्होंने कहा, ‘‘शुरुआत में मुझे लगा था कि छह बैंकों के विलय के बाद एसबीआई एक और बैंक को बचाने की जिम्मेदारी लेने से बचेगा। एसबीआई द्वारा आखिरी ‘बेलआउट’ (1995 में) उत्तर प्रदेश के कुछ जिलों में काम करने वाला काशी नाथ सेठ बैंक था, जो एक परिवार के स्वामित्व वाला बैंक था।

उन्होंने पेंगुइन रैंडम हाउस इंडिया (पीआरएचआई) द्वारा प्रकाशित पुस्तक में उल्लेख किया है कि आरबीआई का उनपर 13 मार्च, 2020 तक बैंक के लिए अन्य निवेशकों को खोजने का दबाव था।

पांच मार्च, 2020 को भारतीय रिज़र्व बैंक ने संकटग्रस्त यस बैंक पर रोक लगाते हुए निकासी की सीमा 50,000 रुपये तय कर दी। इसके बाद 13 मार्च को सरकार द्वारा अधिसूचित पुनर्गठन योजना के कारण 18 मार्च, 2020 को इस रोक को हटा लिया गया।

पुनर्गठन योजना के अनुसार, एसबीआई तीन साल की अवधि के लिए बैंक में अपनी हिस्सेदारी को 26 प्रतिशत से कम नहीं कर सकता है, जबकि अन्य निवेशकों और मौजूदा शेयरधारकों के पास यस बैंक में उनके 75 प्रतिशत के निवेश के लिए तीन साल की लॉक-इन अवधि होगी।

हालांकि, 100 से कम शेयरों वाले शेयरधारकों पर लॉक-इन अवधि लागू नहीं होगी।

(This story has not been edited by economictimes.com and is auto–generated from a syndicated feed we subscribe to.)
(This story has not been edited by economictimes.com and is auto–generated from a syndicated feed we subscribe to.)

ETPrime stories of the day

Tech on board: Chalo navigates the tricky terrain of mass mobility with its ‘OS for buses’
Strategy

Tech on board: Chalo navigates the tricky terrain of mass mobility with its ‘OS for buses’

8 mins read
Rahul vs. Rakesh: turbulence ahead for IndiGo as promoters turn up the heat in legal battle
Aviation

Rahul vs. Rakesh: turbulence ahead for IndiGo as promoters turn up the heat in legal battle

10 mins read
Inside story of how Centrum and BharatPe ‘unified’ for their banking dream. But challenges start now.
Banking

Inside story of how Centrum and BharatPe ‘unified’ for their banking dream. But challenges start now.

15 mins read

सैलरी के इन कंपोनेंट को समझ लें तो टैक्‍स बचत में होगी आसानी

नयी दिल्ली, 20 अक्टूबर (भाषा) स्मार्टफोन निर्माता कंपनी वनप्लस ने बुधवार को कहा कि उसने नवनीत नाकरा को भारत के मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) और वनप्लस के भारतीय परिचालन क्षेत्र के प्रमुख के रूप में पदोन्नत किया है। एक बयान में कहा गया है कि इस नयी भूमिका के तहत नाकरा कंपनी के कारोबार परिचालन का नेतृत्व करेंगे और भारतीय क्षेत्र के लिए समग्र रणनीति बनाने की जिम्मेदारी लेंगे। नाकरा पहले भारत में कंपनी के उपाध्यक्ष, मुख्य रणनीति अधिकारी और बिक्री प्रमुख के रूप मेंनयी दिल्ली, 20 अक्टूबर (भाषा) रियल्टी कंपनी पार्श्वनाथ लिमिटेड ने चेन्नई में 31 एकड़ भूमि पर मिश्रित-इस्तेमाल परियोजना के निर्माण के लिए सुमेरू सॉफ्ट प्राइवेट लिमिटेड और गोमती विश्वेश्वरन ट्रस्ट के साथ अपना संयुक्त उद्यम समझौता रद्द कर दिया है। कंपनी को मध्यस्थता के जरिये निपटान में करीब आठ एकड़ जमीन मिली है। पार्श्वनाथ लिमिटेड के चेयरमैन प्रदीप जैन ने पीटीआई-भाषा को इस संबंध में बताया कि बाजार की स्थितियों के कारण परियोजना को तैयार नहीं किया जा सका, इसलिए सभी पक्षों ने इस समझौते को बंद करने का निर्णय लिया। उन्होंने कहा कि कंपनी को मध्यस्थता आदेश केकोरोना के दौर में सैलरी बढ़ाने के लिए कैसे करें बातचीत?

संयुक्त राष्ट्र, 20 अक्टूबर (एपी) संयुक्त राष्ट्र के जलवायु परिवर्तन से निपटने, पर्यावरण को संरक्षित करने, गरीबी को समाप्त करने, आर्थिक विकास को बढ़ावा देने और स्वास्थ्य देखभाल एवं शिक्षा में सुधार सहित 2030 के लिए निर्धारित विकास लक्ष्यों को प्राप्त करने में मदद करने को व्यापार जगत के 30 शीर्ष अधिकारी निजी निवेश को बढ़ावा दे रहे हैं। दो साल पहले सतत विकास के लिए वैश्विक निवेशक गठबंधन की शुरुआत करने वाले संयुक्त राष्ट्र के महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने मंगलवार को वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिये आयोजित एक बैठक में कहा कि वह विकासशील देशों के लिए अधिक से अधिक निवेशडिजिटल इकनॉमी में नए टैलेंट की जरूरत होगी. आइए, यहां टॉप रिक्रूटमेंट फर्मों से उन स्किल्‍स के बारे में जानते हैं जो सबसे ज्‍यादा डिमांड में हैं.सैलरी और पर्क्‍स के पेमेंट के लिए कंपनियों ने शुरू किया क्रिप्‍टोकरेंसी का इस्‍तेमाल

दिग्गज आईटी कंपनी टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज ने कोरोना वायरस महामारी के दौरान ग्रोथ देने के चलते साल 2021-22 के लिए कर्मचारियों की सैरली बढ़ाई है.नयी दिल्ली, 20 अक्टूबर (भाषा) सार्वजनिक क्षेत्र की एनबीसीसी (इंडिया) लि. को हरियाणा, दिल्ली और राजस्थान में करीब 375 करोड़ रुपये के ऑर्डर मिले हैं। कंपनी को ये ऑर्डर परियोजना प्रबंधन सलाहकार के रूप में मिले हैं। शेयर बाजारों को भेजी सूचना में कंपनी ने कहा कि उसे हरियाणा के सोनीपत के खानपुर कलां में बीपीएस गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज के चरण तीन के निर्माण के लिए परियोजना प्रबंधन सलाहकार का कार्य मिला है। इस परियोजना की लागत करीब 285 करोड़ रुपये की है। एक अन्य सूचना में कंपनी ने कहा कि उसे जयपुर अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे के परिचालन, प्रबंधन और विकास केये 5 टिप्‍स करियर में आगे बढ़ने में करेंगी मदद



Relevant reports:बारात घर
Relevant reports:मिस्टेक कैसीनो बोनस कोड
Relevant reports:स्लॉट 9999
Relevant reports:सट्टेबाजी गुरुजी
Relevant reports:10cric ग्राहक सहायता
Relevant reports:lovebet केन्या
Relevant reports:टेक्सास होल्डम बेस्ट हैंड्स
Relevant reports:स्पोर्ट्सबुक लोगो
Relevant reports:पोकर गेम के नियम हिंदी में
Relevant reports:स्लॉट मशीन ज़ोरो
Relevant reports:बैकारेट पर दांव कैसे लगाएं
Relevant reports:मेरे दिन कैसीनो
Relevant reports:बेटफ़ेयर या लवबेट
Relevant reports:जे पोकर
Relevant reports:बैटरी हाउस
Relevant reports:ऑनलाइन कैसीनो साइट चीन
Relevant reports:स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी इन इंडिया
Relevant reports:कैसीनो एल'अलियांका डेल पोब्लेनौ
Relevant reports:स्लॉट 888 कैसीनो
Relevant reports:0.5 के तहत प्यार का मतलब है
Relevant reports:आस-पास कैसीनो
Relevant reports:बैकरेट लाइव डीलर
Relevant reports:क्रिकेट buzz live
Relevant reports:गो गोवा गॉन
Relevant reports:नियम श्रृंखला
Relevant reports:ऑनलाइन गेम जीटीए
Relevant reports:जैकेट ब्लाउज

【font:large in Small
प्रतिलिपि अधिकार: दक्षिण न्यूज नेटवर्कगुआनडोंग आईसीपी तैयार 05070829 website identification code 4400000131
Sponsor: नान्फांग न्यूज़र नेटवर्क co sponsor: Guangdong Provincial Economic and Information Technology Commission contractor: Nanfang news network
1024 is recommended × Browser with 768 resolution above IE7.0