फुटबॉल बाधा ज्ञान

फुटबॉल बाधा ज्ञान

time:2021-10-28 03:17:12 टीसीएस ने छह महीनों में दूसरी बढ़ाई सैलरी, जानिए क्या है वजह? Views:4591

ऑनलाइन स्लॉट हैक फुटबॉल बाधा ज्ञान betway केविन पीटरसन,लियोवेगैस सहबद्ध,lovebet 66/1 स्टर्लिंग,lovebet जॉब,lovebet यू क्रोनोज गोरी,365 नए फुटबॉल सट्टेबाजी नेविगेशन,उच्च जीत दर के साथ बैकरेट सट्टेबाजी विधि,बैकारेट मनोवैज्ञानिक रणनीति,एमपी बोर्ड 2021 में बेस्ट ऑफ फाइव रूल,नकद शतरंज और कार्ड गेम के लिए आदान-प्रदान किया जा सकता है,कैसीनो या कैसीनो,ढलाई में इस्तेमाल होने वाला शतरंज का टुकड़ा,क्रिकेट क्रिकबज,डी शतरंज संकेतन,यूरोपीय कप फुटबॉल मैच आज रात,फ़ुटबॉल क्रेडिट URL,बिक्री के लिए जुआ मशीनें,हैप्पी किसान रेस्टोरेंट,भारतीय खुश किसान,जैकपॉट मुफ्त गेम ऑनलाइन,नवीनतम फुटबॉल परिणाम,लाइव रूले अटलांटिक सिटी,लॉटरी नंबर 0066,एम.लवबेट1,ऑनलाइन कैसीनो मुफ्त पैसा,ऑनलाइन गेम ज़ूमा डीलक्स,ऑनलाइन स्लॉट उसी दिन पेआउट,पोकर 7 कार्ड स्टड,पोकर्कोको,रूले टिप्स और ट्रिक्स,रम्मी जोकर नियम,शुमान खुश किसान youtube,स्लॉट एन स्टफ यूट्यूब नकली,खेल टेनिस,तीन पत्ती पैसा,सबसे आधिकारिक गेमिंग कंपनी,आभासी क्रिकेट सिडनी,विलो हैडली क्रिकेट बुक 3,y क्रिकेट,कैटरीना इंटरव्यू,खेल लॉटरी online,जोकर इमेजेस,पोकर बसादी,बेटा आई लव यू,रेलवे स्पोर्ट्स कोटा भर्ती 2021,स्टेटस राजनीति, .टीसीएस ने छह महीनों में दूसरी बढ़ाई सैलरी, जानिए क्या है वजह?

टीसीएस की नई सैलरी 1 अप्रैल से लागू होगी और कंपनी के कर्मचारियों की सैलरी 12-14 फीसदी तक बढ़ जाएगी. आमतौर पर कंपनी 6-8 फीसदी का हाइक देती है.
मुंबई: देश की दिग्गज आईटी कंपनी टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (टीसीएस) ने कोरोना वायरस महामारी के दौरान ग्रोथ देने के चलते साल 2021-22 के लिए कर्मचारियों की सैरली बढ़ाई है.

बीते छह महीनों में यह दूसरा मौका है, जब कंपनी ने अपने कर्मचारियों की इंक्रीमेंट किया है. इससे पिछला इंक्रीमेंट 1 अक्टूबर से लागू किया या था. इससे कंपनी की 4.7 लाख कर्मचारियों की वर्कफोर्स को फायदा होगा.

इसे भी पढ़ें: जानिए दिग्गज शेयरों पर क्या है विश्लेषकों की राय

कंपनी को घोषणा के अनुसार, टीसीएस की नई सैलरी 1 अप्रैल से लागू होगी और कंपनी के कर्मचारियों की सैलरी 12-14 फीसदी तक बढ़ जाएगी. आमतौर पर कंपनी 6-8 फीसदी का हाइक देती है. कंपनी ने कहा कि वह सामान्य तौर पर प्रमोशन का सिलसिला भी जारी रखने वाली है.

कंपनी के प्रवक्ता ने कहा, "हम सुनिश्चित करना चाहते हैं कि हम सभी क्षेत्रों के कर्मचारियों को अप्रैल 2021 से इंक्रीमेंट देने वाली है. हम कंपनी से जुड़े सभी लोगों का धन्यवाद देना चाहते हैं, जिन्होंने मुश्किल समय में कंपनी का साथ दिया. यह कर्मचारियों के प्रति हमारी प्रतिबद्धता दिखाता है."


Salary-hike-tcs


उम्मीद है कि 31 मार्च 2021 को खत्म होने वाली तिमाही तक भारतीय आईटी सेक्टर पुरानी ग्रोथ के स्तर तक पहुंच जाएगा. इस सेक्टर को बेहतर मांग और बड़ी डील्स का विशेष लाभ मिल रहा है. आईटी कंपनी एक्सेंचर ने भी अगस्त तक अपने रेवेन्यू ग्रोथ में वृद्धि की उम्मीद जताई है.

एक्सेंचर ने एमडी स्तर के नीचे के अपने कर्मचारियों के लिए एक सप्ताह के बेसिक वेतन जितने बोनस का ऐलान किया है. टीसीएस की अन्य प्रतिद्वंद्वी इंफोसिस ने भी 31 दिसंबर को खत्म हुई तिमाही में अपने कर्मचारियों के लिए सैलरी में वृद्धि, प्रमोशन और स्पेशल बोनस का ऐलान किया था.




हिंदी में पर्सनल फाइनेंस और शेयर बाजार के नियमित अपडेट्स के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज. इस पेज को लाइक करने के लिए यहां क्लिक करें.

टॉपिक

टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेजइंफोसिसटीसीएस सैलरी हाइकएक्सेंचरटीसीएसइंक्रीमेंटशेयर बाजारसैलरी हाइक

ETPrime stories of the day

As Christmas nears, China’s biggest shipper says there’s no end in sight for supply-chain crisis
Logistics

As Christmas nears, China’s biggest shipper says there’s no end in sight for supply-chain crisis

4 mins read
China’s hypersonic missile test may be targeted at the US and the West. But India should be worried.
R&D

China’s hypersonic missile test may be targeted at the US and the West. But India should be worried.

9 mins read
As drones take off under fresh rules, insuring their flight still has a host of teething troubles
Insurance

As drones take off under fresh rules, insuring their flight still has a host of teething troubles

11 mins read

उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र के विभिन्न फॉर्मेट में चुनौतियों और अड़चनों को दूर करने के लिए सीआईआई के तहत खुदरा सेक्‍टर के लोगों का मानना है कि सरकार को एक मजबूत रिटेल पॉलिसी लानी चाहिए.कोरोना की महामारी के चलते कई लोगों की नौकरी छूट गई है. कई लोगों की सैलरी घट गई है. कइयों के रोजगार ठप हो गए हैं. नौकरियों के मौकों में बड़ी कमी आई है. नई जॉब के विकल्‍प बेहद सीमित हैं. ऐसे में यह समय अपने कम्‍फर्ट जोन से निकलकर घर में कमाई के रास्‍ते खोजने का है. इसकी शुरुआत आप खुद से यह पूछ कर सकते हैं कि आप क्‍या कर सकते हैं? कैसे कर सकते हैं? कहां कर सकते हैं? कितना कमा सकते हैं? हम आपको घर बैठे कमाई के कुछ विकल्प बता रहे हैं.इन तरीकों से आप घर बैठे कमा सकते हैं पैसा

पिछले साल से अब तक बड़े उतार-चढ़ाव हुए हैं. लोगों ने कोरोना की महामारी के कहर को देखा और अब जिंदगी को पटरी पर लौटते देख रहे हैं. शायद ही यह दौर भुलाए भूलेगा. हालांकि, इससे कई सबक भी मिले हैं. ये करियर में आगे बढ़ने में मदद कर सकते हैं. आइए, यहां उनके बारे में जानते हैं.अगले साल मई तक आईटी, आईटीईएस और बीपीओ सेक्‍टर में कर्मचारियों के ऑफिस वापसी का लेवल कोरोना से पहले के स्‍तर के 50 फीसदी तक पहुंच सकता है.आईटी और रिटेल सेक्‍टर में मार्च में हुईंं ज्‍यादा भर्तियां : रिपोर्ट

आईबीए ने बैंक कर्मचारी और अधिकारी संघों के साथ 11वीं द्विपक्षीय वेतनवृद्धि वार्ता नई सहमति के साथ सम्पन्न होने की बुधवार को घोषणा की.सर्वे में 20 से ज्‍यादा इंडस्‍ट्रीज की 1,200 कंपनियों की प्रतिक्रिया ली गई. इनमें से 1,000 ने इस साल वेतनवृद्धि के लिए कहा है.नेशनल रिटेल पॉलिसी से 4 साल में पैदा होंगी 30 लाख नौकरियां : सीआईआई

पूरा पाठ विस्तारित करें
संबंधित लेख
पोकर कमाई ट्रैकर ऐप

भारतीय शहरों में करीब 15 फीसदी कंपनियों की फरवरी से अप्रैल 2021 के बीच फ्रेशर्स को भर्ती करने की योजना है. लर्निंग सॉल्‍यूशंस फर्म टीम लीज एडटेक के सर्वे से इसका पता चलता है. टीमलीज एडटेक के सीईओ शांतनु रूज ने कहा कि कोरोना की महामारी के बावजूद कंपनियों के एजेंडे में फ्रेशर्स की हायरिंग है.

रम्मी qka

रोजगार संबंधी सेवाएं देने वाली वेबसाइट नौकरी डॉट कॉम के 'हायरिंग आउटलुक सर्वे' के अनुसार, नियोक्ता नए साल को लेकर आशावान लग रहे हैं.

लाइव कैसीनो साइन अप बोनस

जब संस्‍थान में किसी कर्मचारी को नौकरी छोड़ने के लिए कहा जाता है तो वे आमतौर पर चौंक जाते हैं. लेकिन, कई मामलों में इसके संकेत पहले से मिलने लगते हैं. बात सिर्फ इतनी होती है कि कर्मचारी इन संकेतों का मतलब समझकर सुधार की दिशा में कदम नहीं उठा पाते हैं. आइए, यहां ऐसे ही कुछ संकेतों के बारे में जानते हैं.

एक्स बेइन

नयी दिल्ली, 27 अक्टूबर (भाषा) सरकार ने बुधवार को प्रधानमंत्री की आर्थिक सलाहकार परिषद (ईएसी-पीएम) के मौजूदा चेयरमैन विवेक देबरॉय के अंतर्गत ईएसी-पीएम का पुनर्गठन किया।पुनर्गठन के तहत परिषद से वी अनंत नागेश्वरन को हटा दिया गया है। जबकि राकेश मोहन (आरबीआई के पूर्व डिप्टी गवर्नर), पूनम गुप्ता (नेशनल काउंसिल ऑफ एप्लायड एकोनॉमिक रिसर्च की महानिदेशक) और टी टी राम मोहन (प्रोफेसर, भरतीय प्रबंधन संस्थान, अहमदाबाद) को ईएसी-पीएम के अंशकालिक सदस्य के रूप में नियुक्त किया गया है। परिषद के अन्य अंशकालिक सदस्यों में साजिद चेनॉय, नीलकंठ मिश्रा और नीलेश शाह शामिल हैं। मंत्रिमंडल सचिवालय ने 27

lovebetplus.com ऐप

एयर इंडिया (Air India) में साल 2009 से ऐसी सुविधा थी कि घरेलू और अंतरराष्ट्रीय हवाई उड़ानों के मामले में भारत सरकार के मंत्रालयों/विभागों के अधिकारी सरकारी खर्च पर यात्रा कर सकते थे। हवाई सफर की टिकट का खर्च बाद में एयर इंडिया और सरकार के बीच में सेटल होता था।

संबंधित जानकारी
lovebet विदड्रॉल इंडिया

नयी दिल्ली, 27 अक्टूबर (भाषा) सरकार ने बुधवार को प्रधानमंत्री की आर्थिक सलाहकार परिषद (ईएसी-पीएम) के मौजूदा चेयरमैन विवेक देबरॉय के अंतर्गत ईएसी-पीएम का पुनर्गठन किया।पुनर्गठन के तहत परिषद से वी अनंत नागेश्वरन को हटा दिया गया है। जबकि राकेश मोहन (आरबीआई के पूर्व डिप्टी गवर्नर), पूनम गुप्ता (नेशनल काउंसिल ऑफ एप्लायड एकोनॉमिक रिसर्च की महानिदेशक) और टी टी राम मोहन (प्रोफेसर, भरतीय प्रबंधन संस्थान, अहमदाबाद) को ईएसी-पीएम के अंशकालिक सदस्य के रूप में नियुक्त किया गया है। परिषद के अन्य अंशकालिक सदस्यों में साजिद चेनॉय, नीलकंठ मिश्रा और नीलेश शाह शामिल हैं। मंत्रिमंडल सचिवालय ने 27

क्रिकेट जीके प्रश्न 2020

जयपुर, 27 अक्टूबर (भाषा) केंद्रीय विद्युत मंत्रालय और ऊर्जा दक्षता ब्यूरो (बीईई) द्वारा जारी राज्य ऊर्जा दक्षता सूचकांक 2020 में राजस्थान दूसरे स्थान पर है। सूची में कर्नाटक पहले स्थान पर है। राजस्थान अक्षय ऊर्जा निगम के अध्यक्ष एवं प्रबन्ध निदेशक डॉ0 सुबोध अग्रवाल ने एक बयान में बताया कि राज्य ऊर्जा दक्षता सूचकांक 2020 के लिये भारत सरकार द्वारा देश के समस्त राज्यों को चार श्रेणियों मे बांटा गया था। राज्य ने 61 अंक दर्ज किये हैं। राजस्थान ने इस वर्ष ऊर्जा दक्षता के मामले में अधिकतम सुधार करके कर्नाटक के बाद दूसरा स्थान प्राप्त किया है। केंद्रीय विद्युत मंत्रालय

गरम जानकारी
lovebet शुक्रवार बोनस

नयी दिल्ली, 27 अक्टूबर (भाषा) निवेश कंपनी समारा कैपिटल, हैवेल्स फैमिली इन्वेस्टमेंट ऑफिस और गोदरेज फैमिली इनवेस्टमेंट ऑफिस ने बुधवार को एक नई स्वास्थ्य देखभाल कंपनी 'मारेंगो एशिया हेल्थकेयर' की स्थापना की घोषणा की। यह मंच देश में मल्टीस्पेशियल्टी अस्पतालों का संचालन करेगा। एक बयान के अनुसार इन तीनों कंपनियों ने मिलकर इस मंच की स्थापना की है। यह देशभर में मल्टीस्पेशियल्टी अस्पतालों की श्रृंखला का परिचालन करेगा। बयान के अनुसार इस अस्पताल श्रृंखला का उद्देश्य देश में वैश्विक विशेषज्ञता लाना और नैदानिक साझेदारी बनाने पर ध्यान केंद्रित करना है। इन तीनों कंपनियों ने हालांकि मारेंगो एशिया हेल्थकेयर