आईपीएल आधिकारिक वेबसाइट

Publishing time:2021-10-20 23:28:17

क्या आप ऑनलाइन ब्लैकजैक गेम में जीतते हैं या हारते हैं? आईपीएल आधिकारिक वेबसाइट 188bet एशिया,casumo कुंदतजांस्ती,लीवगैस निकासी का समय भारत,lovebet जमा समस्या,lovebet ओर्नतीश,lovebet.com खेल,एयू क्रिकेट ट्विटर,बैकरेट गेम टेबल रेंटल,बैकारेट जीतने के टिप्स,सट्टेबाजी के सवाल,कैसीनो दा पोवोआ होरारियो,कैसीनो एक्सस्केप एमके,कॉम पोकर गेम्स,क्रिकेट समाचार हिंदी में आज तक,एस्पोर्ट्स एथलीट,दुनिया में प्रसिद्ध सट्टेबाज,फुटबॉल पंजीकरण साइट,ggpoker बोनस कोड,फुटबॉल की गेंद के आकार की गणना कैसे करें,आईपीएल स्कोर लाइव,जैक सजेट यू लवबेट,लाइव कैसीनो बोनस कोई जमा नहीं,लॉटरी 6.7.21,लूडो ऐप डाउनलोड,नेटवर्क शतरंज और कार्ड रूम सेटअप,ऑनलाइन मनोरंजन रैंकिंग,दोस्तों के साथ ऑनलाइन पोकर खेलें,परिमच नंबा या कम्पुनि,पोकर क्या है,रील स्लॉट मोड,कानून का शासन,रम्मी ज़सादि,राज्य द्वारा स्लॉट मशीन भुगतान,स्पोर्ट्स औ गस,स्पोर्ट्सबुक ओहियो,टेक्सास होल्डम त्वरित नियम,खजाने बैकारेट,फ़ुटबॉल खाता कहाँ है?,कल जैकपॉट खेल के परिणाम,ऑनलाइन गेम pubg,क्रिकेट logo,गोवा ताज होटल,तीन पत्ती एपीके डाउनलोड,बकरा घर,बेताब दिल है धड़कनों की कसम,लॉटरी हरिओम लॉटरी, .म्यूचुअल फंडों का एयूएम 41% बढ़कर 31.43 लाख करोड़ रुपये पहुंचा

http://img95.699pic.com/photo/40037/1647.jpg_wh300.jpg?67016

म्यूचुअल फंडों का एयूएम 41% बढ़कर 31.43 लाख करोड़ रुपये पहुंचा

मार्च में 29,745 करोड़ रुपये की शुद्ध निकासी हुई, जिसके चलते कुल एसेट अंडर मैनेजमेंट फरवरी में 31.64 लाख करोड़ रुपये से घटकर मार्च में 31.43 करोड़ रुपये रह गया.
मुंबई: वित्त वर्ष 2020-21 में घरेलू म्यूचुअल फंड इंडस्ट्री का एसेट अंडर मैनेजमेंट (एयूएम) 41 फीसदी बढ़कर 31.43 लाख करोड़ रुपये तक पहुंचई गई. हालांकि, मार्च 2021 में इसमें एक फीसदी की मामूली गिरावट देखी गई.

क्रिसिल की एक रिपोर्ट में शुक्रवार को बताया गया कि ओपेन-एंडेड डेट फंडों से शुद्ध आधार पर निकासी के चलते वर्ष दर वर्ष आधार पर मार्च में एयूएम में एक फीसदी की गिरावट दर्ज की गई.

इसे भी पढ़ें: श्रीराम प्रॉपर्टीज पेश करेगी 800 करोड़ रुपये का आईपीओ, दायर की याचिका

इंडस्ट्री से मिले आंकड़ों के मुताबिक, मार्च में 29,745 करोड़ रुपये की शुद्ध निकासी हुई, जिसके चलते कुल एसेट अंडर मैनेजमेंट फरवरी में 31.64 लाख करोड़ रुपये से घटकर मार्च में 31.43 करोड़ रुपये रह गया.

हालांकि, इसके बावजूद पूरे वित्त वर्ष के दौरान इसमें 41 फीसदी की बढ़ोतरी हुई और कुल 2.09 लाख करोड़ रुपये का निवेश दर्ज किया गया. ओपेन-एंडेड डेट फंडों से 52,528 करोड़ रुपये की शुद्ध निकासी हुई, जो मार्च 2020 के बाद सबसे अधिक है.



हिंदी में पर्सनल फाइनेंस और शेयर बाजार के नियमित अपडेट्स के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज. इस पेज को लाइक करने के लिए यहां क्लिक करें.

टॉपिक

इक्विटी म्यूचुअल फंडएयूएमशेयर बाजारम्यूचुअल फंडडेट म्यूचुअल फंडक्रिसिल

ETPrime stories of the day

Why Rivigo, which hired from all sectors, is zeroing in on seasoned logistics hands for its revival
Recent hit

Why Rivigo, which hired from all sectors, is zeroing in on seasoned logistics hands for its revival

11 mins read
Financing is still a blind spot for EVs. Can Ola Electric be the game changer?
Electric vehicles

Financing is still a blind spot for EVs. Can Ola Electric be the game changer?

10 mins read
Kisan Credit Card is critical for agriculture. But can the scheme overcome the challenges?
Agriculture

Kisan Credit Card is critical for agriculture. But can the scheme overcome the challenges?

7 mins read
म्यूचुअल फंडों का एयूएम 41% बढ़कर 31.43 लाख करोड़ रुपये पहुंचा

डेट म्‍यूचुअल फंडों की कई कैटेगरी हैं. मनी मार्केट म्‍यूचुअल फंड उनमें से एक है. ये स्‍कीमें उन लोगों के लिए मुफीद होती हैं जो अपने निवेश के साथ बहुत कम जोखिम लेना चाहते हैं. चूंकि ये स्‍कीमें छोटी अवधि के इंस्‍ट्रूमेंट में पैसा लगाती हैं. इसलिए इन पर अर्थव्‍यवस्‍था में ब्‍याज दर में होने वाले बदलाव का ज्‍यादा असर नहीं पड़ता है. मनी मार्केट इंस्‍ट्रूमेंट के साथ कम जोखिम होने के कारण भी इनमें निवेश अपेक्षाकृत सुरक्षित होता है. आइए, यहां इनके बारे में कुछ जरूरी बातों को जानते हैं.प्राइम इंवेस्टर ने निवेशकों को फ्रैंकलिन टेम्पलटन म्यूचुअल फंड की सभी स्कीमों से निकासी करने की सलाह दी है. प्राइम इंवेस्टर चेन्नई की एक स्वतंत्र रिसर्च फर्म है.सुपर साइकिल का ऐसे उठाएं फायदा, इन कमोडिटीज पर लगाएं दांव

समय गुजरने के साथ उन्‍हें इक्विटी में निवेश कम कर देना चाहिए. इसके बजाय धीरे-धीरे डेट फंडों की ओर रुख करना चाहिए.अपने साथ की प्रतिद्वंद्वी कंपनियों के मुकाबले डॉ रेड्डीज लैब का वैल्यूएशन कम है. साथ ही बैलेंसशीट भी मजबूत है.मुझे रिटायरमेंट के लिए 19 साल में ₹1.24 करोड़ जुटाने हैं, कैसे प्लानिंग करूं?

बेटी की शिक्षा और शादी के लिए माता-पिता पैसा जोड़ पाएं, इस मकसद के साथ यह स्‍कीम लॉन्‍च की गई थी.अधिकतर निवेशक इक्विटी फंड्स में निवेश करने के लिए सिस्टेमैटिक इंवेस्टमेंट प्लान (सिप) को तरजीह देते हैं. हाल के समय में सिप को बहुत अधिक लोकप्रियता मिली है.म्यूचुअल फंडों का एयूएम 41% बढ़कर 31.43 लाख करोड़ रुपये पहुंचा

स्रोत: Nanfang Daily Online    Editor in charge: hit


पोकर वारसॉ
रम्मीकल्चर बैंक खाता परिवर्तन
स्पोर्ट्सबुक प्रोमो कोड
indiabet ऐप apk
lovebet टॉस लोड
फ्लोरिडा में कैसीनो
क्रिकेटबुक xl
ब्लू रश फिशिंग चार्टर्स
पैसे का अनुभव जीतने के लिए जुआ
कैसीनो 5 डॉलर जमा
परिमच कजाखस्तान
बारात अभिनन्दन पत्र
तीन स्कोर मार्क सिक्स लॉटरी
lovebet भविष्यवाणी टेलीग्राम
वर्चुअल क्रिकेट बार लंदन
क्रिकेट पुस्तक अर्थ
स्पोर्ट्सबुक समझाया
indibet APK
गेम पॉइंट रम्मी क्लब
तीन पत्ती फन
लियोवेगास बिंगो
या फुटबॉल रोस्टर
lovebet डेस्कटॉप
betway टैक्स इंडिया
एनजी डाउनलोड पागलवर्ल्ड
ई-स्पोर्ट्स कुंडा कुर्सी
बैकरेट कैसीनो डाउनलोड